MC University

  About University
icon About University
icon From VC's Desk
  Governing Bodies
icon Management Council
   
 

संचार शोध विभाग के तीन विद्यार्थी बिज़नस एनालिस्ट के पद पर चयनित

 

भोपाल, 22 अप्रैल, 2017: माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवम संचार विश्वविद्यालय के संचार शोध विभाग के तीन छात्र पूल्ड कैंपस ड्राइव में बिज़नस एनालिस्ट पद के लिये चयनित किये गए।  इंदौर की परफेक्ट रिसर्च फाइनेंसियल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड ने चन्दन वर्मा, कुमार मृत्युंजय पाण्डेय, दोनों एम. एस सी. (मीडिया रिसर्च) और संकेत चौबे, एम. फिल. (मीडिया स्टडी) चयनित हुए। कंपनी ने भोजपुर रोड स्थित वैष्णवी इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी एंड साइंसेज में पूल्ड कैंपस ड्राइव आयोजित की गई थी। इसमें एमसीयू के अलावा अन्य कॉलेज और विश्वविद्यालयों के छात्र-छात्राओं ने भी भाग लिया। एम. एस सी. (मीडिया रिसर्च) के दोनों छात्र फाइनल सेमेस्टर में अध्ययनरत हैं और संकेत चौबे एक वर्षीय एम. फिल. (मीडिया स्टडी) में अभी पढाई कर रहे हैं। विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. बृज किशोर कुठियाला, कुलाधिसचिव श्री लाजपत आहूजा और विभाग की प्रमुख डॉ. मोनिका वर्मा ने विद्यार्थियों को इस उपलब्धि पर बधाई दी।

खेल प्रबंधन में युवाओं के लिए है रोजगार के अवसर

कई नये स्पोर्टस चैनल आने के साथ भारत में खेल प्रबंधन, प्रसारण, कमेन्ट्री और मार्केटिंग, पी. आर.  में युवाओं के लिए जॉब के ढेरों नये अवसर उपलब्ध हो रहे हैं। स्पोर्टस ही एक ऐसा क्षेत्र है जहां पर हम शौक को प्रोफेशन में बदल सकते है और पैसा कमा सकते है। स्टार स्पोर्टस मुम्बई के स्पोर्टस कन्सलटेंट डॉ. विवेक शर्मा ने माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय में विद्यार्थियों को संबोधित करते हुये यह विचार व्यक्त किये।

       संचार शोध, विज्ञापन एवं जनसम्पर्क, पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग के विद्यार्थियों को संबोधित करते हुये उन्होंने कहा कि वर्तमान में देश में 23 स्पोर्टस चैनल है और लीग मैचेस की श्रृंखला शुरू होने के कारण खेल प्रबंधन, जनसम्पर्क, कमेन्ट्री और प्रमोशन में जॉब के कई अवसर उपलब्ध है। आज स्पोर्टस में भी मार्केटिंग और मैनेजमेंट के विद्यार्थियों की आवश्यकता है। आईपीएल में भी अलग-अलग टीमों ने अपने स्तर पर प्रचार प्रबंधन की रणनीति बनाई है।

       उन्होंने कहा कि खेलों के क्षेत्र में इसी आवश्यकता को ध्यान में रखते हुये कुछ विश्वविद्यालयों ने एमबीए एवं बीबीए (खेल प्रबंधन) पाठ्यक्रम शुरू किया है। इसके पहले तक इंग्लैड और ऑस्ट्रेलिया के ही शैक्षिणिक संस्थानों में ही इस तरह के पाठ्यक्रम हुआ करते थे। डॉ. शर्मा ने विद्यार्थियों की जिज्ञासाओं का समाधान किया। कार्यक्रम का संचालन संचार शोध विभागाध्यक्ष डॉ. मोनिका वर्मा ने किया। मीडिया प्रबंधन विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. अविनाश वाजपेयी ने डॉ. शर्मा का स्वागत किया। आभार प्रदर्शन जनसंचार विभाग के सहायक प्राध्यापक श्री सुरेन्द्र पॉल ने किया।