MC University

  About University
icon About University
icon From VC's Desk
  Governing Bodies
icon Management Council
   
 

साइबर क्राइम के प्रति हर पल रहना होगा सतर्क

एमसीयू में “सेंसेटाईज़ेशन ऑफ़ इनफार्मेशन एंड साइबर सिक्योरिटी” विषय पर  दो दिवसीय सेमिनार का शुभारम्भ

भोपाल 30 नवम्बर, 2018: साइबर सेल के पुलिस अधीक्षक श्री राजेश भदौरिया ने कहा कि हैकर और साइबर क्रिमिनल हमेशा आपके पासवर्ड की फिराक में रहते हैं। इसलिये हमें हर पल सतर्क रहना आवश्यक है। श्री भदौरिया ने माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय के नवीन मीडिया प्रौद्योगिकी विभाग में “सेंसेटाईज़ेशन ऑफ़ इनफार्मेशन एंड साइबर सिक्योरिटी” विषय पर आयोजित संगोष्ठी में विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए यह बात कही। उन्होंने साइबर अपराधों के तरीकों से विद्यार्थियों को अवगत कराया और उनसे बचने के तरीके भी बताये। www अर्थात इन्टरनेट के वेन, हू और व्हाय का उपयोग करना भी बताया। दो दिवसीय इस संगोष्ठी का उद्घाटन शुक्रवार को सुबह 11 बजे श्री राजेश भदौरिया, कुलाधिसचिव श्री लाजपत आहूजा और कुलसचिव प्रो. संजय द्विवेदी ने किया। इस अवसर पर विभागाध्यक्ष डॉ. पी. शशिकला भी उपस्थित रहीं।

विभागाध्यक्ष डॉ. पी. शशिकला ने बताया कि सेमिनार सात तकनीकी सत्रों में विभाजित किया गया है। प्रत्येक सत्र में साइबर सेक्युरिटी और इनफार्मेशन के सेंसेटाईज़ेशन से जुड़े विषयों पर विमर्श किया जा रहा है। इस अवसर पर कुलाधिसचिव श्री लाजपत आहूजा ने बताया के साइबर क्राइम आज एक ज्वलंत विषय है। नवीन मीडिया को इस प्रकार के क्राइम को रोकने के लिए प्रोटेक्टिव मॉडल बनाना चाहिए। कुलसचिव प्रो. संजय द्विवेदी ने बताया कि आज के पत्रकार को टेक्नोसेवी होने की ज़रूरत है और इस विषय में ज्यादा से ज्यादा रिसर्च करनी चाहिए। 

दूसरे सत्र में साइबर सेल के तकनीक विशेषज्ञ श्री अभिषेक सोनेकर ने साइबर क्राइम के विभिन्न पहलुओं के बारे में विद्यार्थियो को अवगत कराया और साथ ही कुछ व्यवहारिक पक्षों को रखा। श्री सोनेकर ने वास्तविक रूप में यूज़र्स के साथ हुए केस और उनके निराकरण को साझा भी किया। वहीं श्री रघु पाण्डेय ने तीसरे सत्र में साइबर एथिक्स, साइबर सुरक्षा और डिजिटल सिटीजनशिप के बारे में अपने विचार व्यक्त किये।  उन्होंने बताया की किस प्रकार इन्टरनेट प्रतिदिन की ज़िन्दगी में प्रभाव डालता है और किस प्रकार एक यूज़र इन्टरनेट मेच्युरिटी के द्वारा आने  वाले खतरों और साइबर क्राइम का शिकार होने से बच सकता है।

आदर्श प्रिंटर्स की वाइस प्रेसिडेंट सुश्री अंकिता श्रीवास्तव ने ई-पब्लिशिंग, डिजिटल आर्काइव्ज और इनफार्मेशन सिक्योरिटी से विद्यार्थियों को अवगत कराया। सुश्री अंकिता स्वयं एक आंत्रप्रेंयुअर हैं, जिन्होंने अपने व्यवसाय के बारे में शुरुआत से लेके अंत तक की सारी प्रक्रिया को विस्तारपूर्वक समझाया। इस अवसर पर विभाग के शिक्षक एवं विद्यार्थी उपस्थित रहे।